World Mental Health Day in Hindi | मानसिक तनाव को करें दूर

0
190
World Mental Health Day in Hindi
World Mental Health Day in Hindi

World Mental Health Day in Hindi | मानसिक तनाव को करें दूर

World Mental Health Day 

आज के समय में शारीरिक स्‍वास्‍थ्‍य से ज्‍यादा महत्‍वपूर्ण मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य हो गया है. मानसिक स्वास्थ की समस्या इतनी ज्यादा बढ़ती जा रही है जिसे दूर करना बहुत ही जरुरी है. शरीर को स्वस्थ रखने से पहले मन को स्वस्थ रखना जरुरी है. मन को शांत रखने के लिए तनाव को दूर करना बहुत ही जरुरी है. अगर मन तनाव और चिंतामय रहेगा तो शरीर का विकास संभव नहीं है. इस वजह से व्‍यक्ति जानलेवा बीमारियों से ग्रसित हो सकता है. इसी मानसिक बीमारी को लोग पागलपन समझते हैं. मानसिक समस्याओं के बढ़ते मामलों को देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन हर साल 10 अक्टूबर को वर्ल्ड मेंटल हेल्थ डे मनाता है. मानसिक तनाव को व्यक्ति झेल नहीं पाता. वह डिप्रेशन में आ जाता है. डिप्रेशन की बीमारी तेजी से बढ़ती जा रही है. इस बीमारी से बच्चों में भी 5 से 10% शिकार हुए हैं. इस बीमारी का प्रतिशत व्यस्को में 10 से 15 % तक है. किशोरों में यह बीमारी बहुत ही तेजी से फैलती जा रही है. किशोरों में डिप्रेशन की समस्या 70% से ज्यादा है. इसी बीमारी के चलते ये लोग आत्महत्या कर लेते है.
इस समस्या से छुटकारा पाना बहुत ही जरुरी है. अपने जीवन को अच्छे तरह से जीना, जिसमे कोई भी तनाव ना हो बहुत ही जरुरी है. “World Mental Health Day” 

World Mental Health Day in Hindi
World Mental Health Day in Hindi

इन बातों का रखे ध्यान: World Mental Health Day in Hindi

  • मानसिक तनाव को दूर करने के लिए हमें अपना ख्याल भलीभांति रखना होगा. ऐसा कोई काम ना करें जिसका असर दिमाग पर बहुत ज्यादा पड़े. अपने बच्चों का खासकर ध्यान रखे कही वे पढ़ाई के प्रेशर की वजह से मानसिक डिप्रेशन में तो नहीं जा रहे. उनका ख्याल रखना बहुत ही जरुरी है. इसके लिए अपने खान-पान का भी विशेष ध्यान रखना होता है. नियमित खाएं जिससे जिससे शरीर को लगातार ऊर्जा मिलती रहे. खाना छोड़ने से शरीर और मस्तिष्क दोनों ही थका हुआ महसूस करते हैं. इसलिए अपना ख्याल अच्छे से रखें.
  • Read Also: Dawai Ke Side Effects

  • शारीरिक स्वास्थ के साथ साथ मानसिक स्वास्थ का होना बहुत ही जरुरी है. जब हम अच्छी और पर्याप्त नींद लेते हैं तो हम तनाव पर अच्छी तरह काबू पा सकते हैं. पर्याप्त नींद लेने से सकारात्मक सोच का विकास होता है. किसी भी तरह की थकान महसूस नहीं होती. जब भी मन उदास है किसी तनाव में है तो आप उस समय कुछ समय के लिए सो जाये. इससे आपके मन को शान्ति मिलेगी और मानसिक तनाव कम हो जाएगा. “World Mental Health Day in Hindi”
  • किसी भी काम को करने से पहले ये ना सोचे कि मैं इसे नहीं कर पाऊंगा या मुझसे नहीं होगा. ऐसी नकारात्मक सोच को बदलना होगा. इसी नकारात्मक सोच की वजह से ही मानसिक संतुलन बिगड़ता है. हमेशा पॉजिटिव सोचे. ये मन में मान ले. कि मैं सब कुछ कर सकता हूँ. कोई भी काम इंसान से बढ़कर नहीं है. आप दिखने में कैसे है, लोग आपके बारे में क्या कहेंगे, इन सब बातों को अपने दिमाग से निकाल दें. किसी भी नकारात्मक सोच की परवाह ना करें बस अच्छा ही सोचे. बस तुम अपनी सोच को बदलो तुम्हे बदलने की कोई जरुरत नहीं है.
  • हर व्यक्ति आज के इस जीवन काल में अपने जीवन को अच्छे तरीके से जीना चाहता है. वह चाहता है कि उसे किसी भी तरह की कोई कमी ना हो. ऐसा करना उसके लिए गलत नहीं है. कैसी भी परिस्थति हो अपने शौक हमेशा पूरे करो. अपने व्यस्त काम के चलते अपनी सबसे पसंदीदा चीज को छोड़ना बहुत ही गलत है. उससे कहीं ज्यादा जरुरी है उसे पूरा करना. ऐसा करने से आपका मन खुश रहेगा और मानसिक रूप से भी खुद को तरोताजा महसूस करेंगे. आपकी Mental Health पर अच्छा प्रभाव पडेगा.
  • एक्सरसाइज हमारे शारीरिक स्वास्थ के साथ साथ मानसिक स्वास्थ को भी तरोताजा और चिंतामुक्त रखती है. एक्सरसाइज करने में ना कोई ज्यादा समय खर्च होता. आपको बस 30 से 40 मिनट का व्यायाम करना है. इसी व्यायाम से आपके मानसिक स्वास्थ में अच्छे अच्छे ख्याल और सकारात्मक विचार आने लगेंगे. ऐसे व्यायाम चुनें जिन्हें करने में आप आरामदायक और खुशी महसूस करें. जब भी आप तनाव में हो बाहर टहलने के लिए जाये ताजा ताजा हवा का आनंद ले. और खुश रहें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.