Neend Me Chalne Ki Beemari Ka Gharelu Upchar

0
160
neend me chalne ki beemari ka gharelu upchar

Neend Me Chalne Ki Beemari Ka Gharelu Upchar CID व क्राइम पेट्रोल जैसे शो में आपने देखा होगा कि नींद में चलकर हत्या को अंजाम देता है। हत्यारे को खुद इस बाय की खबर नही होती कि उसके हाथों इतना बड़ा अपराध हुआ है। हमारा मकसद शो और हत्या के बारे में नही बताना है बल्कि यह कड़ी ठीक उसी बीमारी से जुड़ा है। Neend Me Chalne Ki Beemari Ka Gharelu Upchar को करना बहुत ही जरुरी है.

नींद में चलने की बीमारी लाखो में एक इंसान को होती है यानी रेयर। इस बीमारी में इंसान सोने के दौरान भी चलने लगता है। आश्चर्य की बात तो यह है कि वह सामान्य मनुष्यों की तरह कई कार्यों को आसानी से अंजाम देता है। लेकिन दुख की बात यह है कि नींद में किये गए काम को उसका दिमाग याद नही रख पाता। यह एक अजीब रोग है जो शरीर के स्नायु वाले भाग में गड़बड़ी की वजह से होती है।

आज इस पोस्ट में हम ऐसे उपचार सुझाएंगे जिससे इस बीमारी को खत्म किया जा सकता है। क्योंकि जाने अनजाने में होने वाली बड़ी घटना रोगी की जिंदगी को तबाह कर देता है। जानिए वो घरेलू उपचार जो खत्म कर सकता है इस रोग को पूरी तरह…

Neend Me Chalne Ki Beemari Ka Gharelu Upchar

नींद में चलने की बीमारी से बचने के बहुत से उपाय है. आप इन उपायों को जरुर करें. इन उपायों को करके नींद में चलने की समस्या से छुटकारा पा सकते है.

1. ब्राह्मी :-

यह एक ऐसा पदार्थ है जो  नींद में चलने की बीमारी को 100% खत्म करने में सहायक होता है। इसके लिए सर्वप्रथम ब्राह्मी, बच और शंखपुष्पी समान मात्रा में लें तथा उसे लगातार 24 घण्टे तक सूखने के लिए छोड़ दें। इस दौरान उसपर शीत ना पड़े इस बात का भी ध्यान रखना। अब इसका चूर्ण बनाकर इसमें एक चमच्च घी और शहद का मिश्रण बना लें। दिन में दो बार इसका सेवन करने से रोगी का नींद में चलने की शिकायत खत्म हो जाती है।

2. कोकोनट :-

नारियल को पेरकर जो जूस प्राप्त होता है उसे सुबह शाम रोगी को पिलाएं। इस भयंकर बीमारी का निराकरण आसानी से हो जाएगा। आने वाले समय में किसी खतरनाक दुर्घटना से सेफ हो जाएंगे।

neend me chalne ki beemari ka gharelu upchar

3. हनी यानी शहद :-

10 ग्राम पोस्ता का दाना लेकर उसके साथ शहद मिला दें। जब भी रोगी सोने जाए उससे पहले इस मिश्रण का कुछ भाग खिला दें, फिर देखना उस रात रोगी बिस्तर से उठेगा ही नही। अगले सुबह से यह उपचार दिन में 2 बार करें जल्द ही निजात मिलेगा।

neend me chalne ki beemari ka gharelu upchar

4. ज्योतिष्मती :-

यह एक प्रकार के बीज से निकला हुआ रस है। इस जूस के कुछ बूंद मक्खन के साथ मिश्रित कर रोगी को खिलाएं। शुरुआत में तो अजीब लगेगा पर अगली बार से रोगी इसका आदि हो जाएगा। बता दें कि ये उपाय सबसे सरल और लाभुक है।

5. घी :-

घी जैसी सामान्य चीज़ भी इस बीमारी को दूर करने में काम आता है। पहले गाय का दूध लें और उसमें घी, मिश्री के छोटे टुकड़े और 5 से 6 ग्राम असगंध का टुकड़ा मिला लें। इस घोल को पीने के बाद रोगी इस बीमारी से मुक्त हो जाएगा।

neend me chalne ki beemari ka gharelu upchar

6. जटामासी :-

अंतिम और सबसे आसान उपाय जटामासी जो लग्भग सभी के घर पाया जाता है। गर्म मशाला में पाया जानेवाला यह पदार्थ बड़े काम की चीज़ है। रोगी को सुबह शाम लग्भग 1 से 2 ग्राम जटामासी को खाना चाहिए। फिर क्या पलक झपकते बीमारी गायब।

नींद में चलने की बीमारी से छुटकारा पाने के लिए neend me chalne ki beemari ka gharelu upchar को करना बेहद जरुरी है. जो उपचार इसमें बताये गए है उन्हें आप अच्छे से करें इससे आपको बेहद लाभ मिलेगा. इस पोस्ट को शेयर जरुर करें जिससे किसी और की भी Help हो सके.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.