GPS क्या है? GPS कैसे काम करता है? | GPS Tracking

0
1314

GPS kya Hai GPS Kaise Kam Karta Hai

आज की लाइफ कहने को तो बहुत फ़ास्ट और स्मार्ट हो गयी है लेकिन इनमे से कुछ चीजे ऐसी है, जिनके बारे में हमने सुन रखा होता है लेकिन ये कैसे काम करता है, या होता क्या है? ये पता नहीं होता है.

ऐसे ही आपने जीपीएस का तो नाम सुना होगा. लेकिन आपको ये सायद नहीं पता हो कि  GPS kya Hai GPS Kaise Kam Karta Haiजीपीएस क्या होता है? जीपीएस कैसे काम करता है? या जीपीएस से हमें क्या क्या फायदे हो सकते है.

GPS kya Hai GPS Kaise Kam Karta Hai

What is GPS in Hindi? – जीपीएस क्या है?

जीपीएस, GPS इसकी फुल फॉर्म Global Positioning System है. यह एक ग्लोबल नेविगेशन सैटेलाइट सिस्टम है जिसकी सहायता से हम किसी भी Location का पता लगा सकते है. मन चाही दूरी का पता कर सकते है. जीपीएस का उपयोग आज के समय में बहुत ज्यादा किया जाता है. किसी की Location Track करने में, Map बनाने में, जमीन का सर्वेक्षण करने भी इसका इस्तेमाल किया जाता है.

आज के समय में ये सुविधा हर एक स्मार्टफ़ोन में जरुर उपलब्ध होगी. लेकिन इसका इस्तेमाल कुछ लोग ही करते हैं. इस सिस्टम की मदद से होने वाली दुर्घटना को भी रोका जा सकता है. वाहन चलाते समय ड्राईवर के लिए बहुत ही उपयोगी है उसे बाएं और दायें मुड़ने के निर्देश भी देता रहता है.

GPS Tracking System How to Work in Hindi?

जीपीएस कैसे काम करता है?

जीपीएस एक satellite के जरिये काम करता है. इन satellite से संदेशों का आदान प्रदान होता है.
इन Signals को जोड़ने के लिए जीपीएस डिवाइस काम में आती है. स्मार्टफ़ोन में इस सुविधा से यूजर अपनी लोकेशन का पता लगा सकता है. जीपीएस डिवाइस सैटेलाइट से आने वाले सिग्नल्स के जरिये उस लोकेशन को मैप में दर्शाता है. इसके जरिए दूर कहीं बैठकर अपने वाहन की स्थिति को जाना जा सकता है।

अगर एक बार जीपीएस सिस्टम को जीपीएस डिवाइस की लोकेशन पता चल जाती है तो वह बाद में जीपीएस की मदद से अन्य जानकारी जैसे दूरी, गति, ट्रैक, जगह से दूरी, सूर्य अस्त होने का समय और सूर्य उदय होने का समय आदि जानकारी इकठ्ठा कर लेता है.

जीपीएस तीन प्रमुख क्षेत्रों से मिलकर बना हुआ है, स्पेस सेगमेंट, कंट्रोल सेगमेंट और यूजर सेगमेंट। दरअसल, जीपीएस सीधे उपग्रह से जुड़ा होता है। जो वास्तविक जगह की पहचान करता है।

जीपीएस का इस्तेमाल कैसे करें? 

How to use GPS in Hindi?

GPS kya Hai GPS Kaise Kam Karta Hai के बारे में अच्छे से जाने. जीपीएस टेक्नोलॉजी आज के समय में बहुत ही उपयोगी है. इसका इस्तेमाल कैसे करना है ये हर एक को नहीं आता. आइये जानते है जीपीएस कैसे इस्तेमाल करें.

जीपीएस का इस्तेमाल करने के लिए आपको अपने स्मार्टफ़ोन में सबसे पहले जीपीएस के Option को On करें.

GPS on करने के बाद आप उस लोकेशन का नाम या जगह का नाम सर्च बॉक्स में डाले जहाँ आपको जाना है, या उसके बारे में distance पता करनी है.

अगर आपने अपनी किसी लोकेशन को सर्च किया है तो आपको आपके स्मार्टफ़ोन की स्क्रीन पर मैप में एक हरे रंग का पॉइंट दिखाई पड़ेगा. ये ग्रीन पॉइंट ही आपकी लोकेशन है.

gps kya hai gps kaise kam karta hai

जीपीएस की आप अपने तरह से सेटिंग कर सकते है. जैसी आपकी जरुरत है बैसी ही. अगर आप किसी जगह बार बार जाते है तो उसे आप अपने जीपीएस की सेटिंग में सेट कर सकते हैं. इससे आपकी लोकेशन का पता बस एक क्लिक में ही चल जाएगा, कि आप अपनी लोकेशन से कितना दूर हो.

GPS kya Hai GPS Kaise Kam Karta Hai – GPS System

जीपीएस को निम्न ग्रुप में बांटा है-

नेविगेशन– नेविगेशन के जरिये एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाना

लोकेशन- किसी भी मोबाइल या किसी भी अन्य चीज का पता लगाने के लिए GPS का इस्तेमाल किया जाता है. इसके लिए उस मोबाइल या डिवाइस में जीपीएस होना बेहद जरुर है.

मैपिंग- जीपीएस का प्रयोग मैप बनाने के लिए किया जाता है. जीपीएस की सहायता से मैप बनाना बहुत ही सरल हो गया है.

ट्रैकिंग- किसी भी चीज की निगरानी करने के लिए

GPS का इस्तेमाल आज के समय में बहुत अधिक किया जाने लगेगा है. जीपीएस के प्रयोग से बहुत ही फायदे है.

जीपीएस से कर सकते है ये काम –

बच्चों की निगरानी-

GPS की मदद से आप अपने बच्चों पर आसानी से नज़र रख सकते हैं. उसके लिए आपको ट्रैक आईडी या लेट्सट्रैक की जरुरत पड़ेगी. इसे आप अपने बच्चे के बैग या कपड़ों पर लगाकर लोकेशन को आसानी से ट्रैक कर सकते है.

फोन को ढूँढने में –

GPS की सुविधा हर एक स्मार्टफ़ोन में मिल जाएगी. फाइंड माईफोन फीचर के जरिये आप अपने फ़ोन की लोकेशन ट्रैक कर सकते है.
फ़ोन खो जाने पर या चोरी हो जाने पर आप गूगल आईडी डालकर जीपीएस की सहायता से फ़ोन को ट्रैक कर सकते हैं.

कार की सेफ्टी-

अगर आप अपनी कार की सेफ्टी चाहते है और अपनी कार की लोकेशन ट्रैक करना चाहते तो आप फाइंड माईफोन की मदद से अपनी लोकेशन को ट्रैक कर सकते हैं.

बाइक सेफ्टी-

अगर आप अपनी बाइक ढूंढना चाहते है तो आप लेट्सट्रैक बाइक सीरीज़’ का इस्तेमाल कर सकते हैं. इसकी मदद से आप अपने बाइक की स्पीड मॉनिटर कर सकते हैं, पार्किंग नोटिफिकेशन प्राप्त कर सकते हैं. फ्यूल-माइलेज की जानकारी भी ट्रैक कर सकते हैं.

GPS का इस्तेमाल –

डिज़ास्टर रिलीफ, इमर्जेंसी रिलीफ, रोबोटिक्स और टेक्टोनिक्स, वेहिकल्स के नेविगेशन, मोबाइल फोन, ट्रैकिंग, जीपीएस एयर क्राफ्ट ट्रैकिंग,

GPS kya Hai GPS Kaise Kam Karta Hai के बारे में आपको पता चल गया होगा. इसका कैसे इस्तेमाल करना है आप जान गए होंगे. इस पोस्ट को शेयर जरुर करें. और फेसबुक पेज को भी लाइक करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.